SSC GD Ki Taiyari Kaise Karen: सम्पूर्ण जानकारी 2024

दोस्तों नमस्कार! आज के आर्टिकल में हम SSC GD परीक्षा के बारे में बात करने वाले हैं। इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि SSC GD Ki Taiyari Kaise Karen? ताकि आप इसमें अच्छे अंक प्राप्त करके अंतिम रूप से चयनित हो सके। आर्टिकल में हम लिखित परीक्षा की तैयारी के साथ-साथ शारीरिक परीक्षा यानी की फिजिकल एक्जाम के तैयारी के लिए आवश्यक जानकारी पर भी विस्तार से चर्चा करेंगे।

एसएससी जीडी परीक्षा की तैयारी में मेरा अपना खुद का 2 साल का अनुभव रहा है। इस दौरान मैंने दो बार एसएससी जीडी की लिखित परीक्षा, शारीरिक परीक्षा और मेडिकल परीक्षा में प्रतिभाग किया है। अतः यहां दी जा रही जानकारी मेरे खुद के अनुभव, अध्यापकों के द्वारा दिए गए सुझावों एवं एसएससी जीडी परीक्षा में चयनित हो चुके अभ्यर्थियों द्वारा अपनाये गये तरीकों पर आधारित होगी।

दी जा रही सभी जानकारी को समझकर एवं उनका अनुसरण कर आप SSC GD की परीक्षा में अच्छे अंकों के साथ चयनित होकर अपने पसंद के सुरक्षा विभाग में कार्य कर सकते हैं।

Table of Contents

SSC GD Ki Taiyari Kaise Karen? इस बात पर चर्चा करने से पहले हम संक्षेप में SSC GD परीक्षा के बारे में जान लेते हैं।

ssc gd ki taiyari kaise karen
ssc gd ki taiyari kaise karen

SSC GD Kya Hai?

SSC GD एक एकदिवसीय परीक्षा है, जिसे प्रत्येक वर्ष SSC के द्वारा आयोजित किया जाता है। इस परीक्षा के माध्यम से चयनित होने वाले अभ्यर्थियों को केंद्रीय सुरक्षा विभागों जैसे की BSF, CISF, CRPF, SSB, ITBP, AR, SSF, NCB में कांस्टेबल पद पर नियुक्ति दी जाती है।

  • प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी SSC GD Constable Vacancy 2024 जल्द ही जारी की जाएगी। जिसका आवेदन संभवत: नवंबर माह से प्रारंभ कर दिया जाएगा। वहीं इसकी लिखित परीक्षा फरवरी-मार्च 2024 में आयोजित की जाएगी।
  • एसएससी जीडी की परीक्षा में हाईस्कूल यानी की 10th परीक्षा पास अभ्यर्थी जिनकी आयु 18 वर्ष से लेकर 23 वर्ष तक की है, आवेदन कर सकते हैं। कुछ विशेष वर्ग जैसे कि OBC, SC, ST, PWD एवं एक्स सर्विसमैन को आयु में छूट भी प्रदान की जाती है।
  • आवेदन प्रक्रिया पूरा करने के बाद अभ्यर्थियों को सर्वप्रथम लिखित परीक्षा के लिए बुलाया जाता है। लिखित परीक्षा एक कंप्यूटर आधारित परीक्षा होती है, जिसमें अभ्यार्थियों से बहुविकल्पीय प्रकार के 80 प्रश्न 160 अंकों के लिए पूछे जाते हैं। जिन्हें हल करने के लिए कुल 60 मिनट का समय दिया जाता है ‌।
  • SSC GD के सिलेबस में रिजनिंग, गणित, सामान्य जागरूकता, अंग्रेजी एवं हिंदी विषय शामिल है। इन प्रत्येक विषयों से 20-20 प्रश्न एसएससी जीडी की परीक्षा में पूछे जाते हैं। अभ्यर्थियों को अंग्रेजी एवं हिंदी विषय में से किसी एक विषय के प्रश्नों को ही हल करना होता है।
  • हिंदी या अंग्रेजी में से किस विषय के प्रश्न को हल करना है, इसका चुनाव आप लिखित परीक्षा के दौरान परीक्षा शुरू होने के पूर्व कर सकते हैं। लिखित परीक्षा में .50 अंक की नेगेटिव मार्किंग होती है।
  • लिखित परीक्षा में चयनित होने के बाद अभ्यर्थियों को SSC GD की शारीरिक परीक्षा के लिए बुलाया जाता है। जिसमें अभ्यार्थियों की लंबाई की माप, सीने की माप (केवल पुरुष अभ्यर्थियों के लिए) एवं दौड़ परीक्षा कराई जाती है।
  • पुरुष अभ्यर्थियों की न्यूनतम लंबाई 170 सेंटीमीटर एवं महिला अभ्यर्थियों की न्यूनतम लंबाई 157 सेंटीमीटर मांगी गई है। वहीं पुरुष अभ्यर्थियों को 5 किलोमीटर की दौड़ 24 मिनट में तथा महिला अभ्यर्थियों को 1600 मीटर की दौड़ 6 मिनट 30 सेकंड में पूरी करनी होती है।
  • SSC GD की लिखित परीक्षा, शारीरिक परीक्षा तथा मेडिकल जांच एवं दस्तावेज सत्यापन परीक्षा कराने के बाद SSC के द्वारा एक फाइनल लिस्ट जारी किया जाता है। यह लिस्ट SSC GD परीक्षा में अंतिम रूप से चयनित अभ्यर्थियों की होती है।

SSC GD Ki Taiyari Kaise Karen?

किसी भी परीक्षा की तैयारी शुरू करने से पहले हमें उस परीक्षा के बारे में अच्छे से जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए। इन जानकारियों में SSC GD परीक्षा के चयन प्रक्रिया, परीक्षा पैटर्न, सिलेबस एवं पिछले वर्षों के कट ऑफ आदि शामिल होने चाहिए।

यहां पर हम आपको एसएससी जीडी परीक्षा की तैयारी के लिए कुछ विशेष तरीकों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें अपनाकर आप निश्चित रूप से इस परीक्षा में सफलता हासिल कर सकते हैं।

परीक्षा के बारे में जाने

  • जैसे कि मैंने पहले ही आपको बताया कि आप अपने परीक्षा के बारे में जितनी अधिक जानकारी रखेंगे आपके लिए परीक्षा में सफल होना उतना आसान हो जाएगा।
  • अतः आप सर्वप्रथम एसएससी जीडी के सिलेबस को अच्छे से समझ लें। साथ ही एसएससी जीडी के विषयों में से किन टॉपिक से ज्यादा प्रश्न पूछे जाते हैं, इसकी लिस्ट अवश्य बना ले।
  • जैसे कि SSC GD के गणित विषय से कुल 20 प्रश्न पूछे जाते हैं। जिसमें से लगभग चार प्रश्न सरलीकरण टॉपिक से, तीन प्रश्न अनुपात समानुपात टॉपिक से, लगभग तीन ही प्रश्न ब्याज से तथा दो प्रश्न प्रतिशतता टॉपिक के शामिल होते हैं।
  • यानी कि मात्र चार टॉपिक से ही परीक्षा में 10 से 12 प्रश्न पूछ लिए जाते हैं। वहीं बचे हुए 10 अन्य टॉपिक से मात्र 8 से 10 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • ऐसे में आप उन विषयों के टॉपिक पर ज्यादा फोकस करें जिनसे परीक्षा में अधिकतम प्रश्न पूछे जाते हैं। ताकि आप परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर सकें।

प्रश्न के स्तर को समझें

SSC GD की परीक्षा हाई स्कूल (10th) स्तर पर आयोजित की जाती है। ऐसे में इस परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों का स्तर भी हाईस्कूल स्तर का होता है।

  • लेकिन अगर आप SSC GD की तैयारी के दौरान SSC CHSL, SSC CGL या SSC CPO की परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों को हल करने का अभ्यास कर रहे हैं, तो आपकी तैयारी की यात्रा काफी लंबी हो जाएगी। अंततः आपको तैयारी के लिए जरूर से ज्यादा समय देना होगा।
  • इसलिए एसएससी जीडी परीक्षा की तैयारी के दौरान आप अपने स्तर के प्रश्नों को ही हल करने का अभ्यास करें।

सही पुस्तक का चुनाव करें

SSC GD के सिलेबस में कुल 5 विषय शामिल है। दिए गए इन पांच विषयों में से सिर्फ चार विषयों के प्रश्न ही अभ्यर्थियों को हल करने होते हैं।

Read This Article Also:- SSC GD की तैयारी के लिए Best Book

  • इन चार विषयों में से तीन विषय गणित, रिजनिंग एवं सामान्य जागरूकता विषय सभी अभ्यर्थियों के लिए अनिवार्य है। वहीं चौथी विषय के रूप में आप हिंदी या अंग्रेजी में से कोई एक विषय चुन सकते हैं।
  • इस तरह से आपको एसएससी जीडी की तैयारी के लिए कुल चार पुस्तकों की आवश्यकता होगी। पुस्तकों का चुनाव करते समय आप विशेष ध्यान रखें कि यह आपकी परीक्षा के अनुरूप हो तथा इसमें कोई ऐसी जानकारी ना हो जो आपके लिए आवश्यक नहीं है।
  • किसी अच्छे लेखक एवं विश्वसनीय प्रशासन की पुस्तक का ही चुनाव करें ताकि आपको उस पुस्तक में सही जानकारी प्राप्त हो सके और पुस्तक में त्रुटि होने की भी संभावना कम रहेगी।
  • पुस्तकों का चयन आप अपने अध्यापक या किसी सीनियर अभ्यर्थी की सलाह पर कर सकते हैं। यहां पर आपको एसएससी जीडी तैयारी के लिए कुछ पुस्तकों के नाम सुझाए जा रहे हैं। जिनका ईमानदारी से अध्ययन करके आप एसएससी जीडी की परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं।
Mathशारदा पब्लिकेशन by SD Yadav
Englishकेडी पब्लिकेशन by Neetu Singh
General Knowledgeयूनिक पब्लिकेशन by JK Chopra
Reasoningपिछले 10 वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करें।
Hindiपिछले 10 वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करें।

योजना बनाकर पढ़ाई करें

परीक्षा के बारे में एवं उसमें पूछे जाने वाले प्रश्नों के स्तर को समझकर तथा पुस्तकों का चुनाव करने के बाद अब हमें अपनी तैयारी के लिए एक योजना बनाने की जरूरत है।

  • परीक्षा के लिए आपके पास जितने भी दिन शेष बचे हुए हैं, उन बचे हुए दिनों के लिए अपना एक टाइम टेबल तैयार करें।
  • टाइम टेबल को इस तरह से तैयार करें कि आप परीक्षा से पूर्व अपने पूरे सिलेबस को पूरा पढ़ सके तथा साथ ही आपको रिवीजन के लिए भी समय मिल सके।
  • टाइम टेबल बहुत ज्यादा बोझिल या उबाऊ ना बनाएं। समय-समय पर ब्रेक लेकर पढ़ाई करते रहें। कोशिश करें कि जिस भी टॉपिक को आप पढ़ रहे हैं, उस टॉपिक से पिछले 10 वर्षों में जितने भी प्रश्न एसएससी जीडी की परीक्षा में पूछे गए हैं उन्हें हल कर लें।
  • अगर प्रश्न अंग्रेजी, सामान्य जागरूकता या हिंदी विषय के है, तो उनका एक नोट्स बना ले साथ ही इन प्रश्नों को याद करते चले।

पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करें।

परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने में सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण भूमिका पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों की ही होती है। इसलिए अभ्यर्थी पिछले 10 वर्षों के प्रश्न पत्रों को अवश्य हल करें।

  • ज्यादातर विद्यार्थी प्रश्न पत्रों को हल करने के लिए सिलेबस पूरा होने का इंतजार करते हैं। मेरे सुझाव से आप अपने सिलेबस को पढ़ते रहें तथा साथ ही पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों को भी हल करते चले।
  • प्रश्न पत्रों को तैयारी के साथ ही हल करने से आपको यह ज्ञात होता रहेगा कि आपकी तैयारी सही दिशा में है कि नहीं? साथ ही आपको SSC GD की परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों के स्तर और उसके पैटर्न को समझने में भी आसानी होगी।
  • अतः आप तैयारी के दौरान ही रोजाना कम से कम एक प्रश्न पत्र को अवश्य हल करें। प्रश्न पत्र को हल करने के साथ ही इसका अवलोकन भी करें। ताकि यह पता चल सके कि आपको किस विषय में और अधिक मेहनत की आवश्यकता है।

Note:- इन प्रश्न पत्रों को आप मार्केट से बुक के रूप में खरीद सकते हैं। या टेस्ट बुक जैसे APP का इस्तेमाल करके इन प्रश्नपत्रों को ऑनलाइन टेस्ट के रूप में भी हल कर सकते हैं।

मॉक टेस्ट का अभ्यास करें।

  • मॉक टेस्ट एक तरह का मॉडल पेपर होता है, जिसे परीक्षा की तैयारी करने वाले संस्थानों के द्वारा तैयार किया जाता है।
  • यह मॉडल पेपर परीक्षा के पैटर्न और सिलेबस को ध्यान में रखकर तैयार किया जाता है। जिससे यह संभावना रहती है कि इसमें दिए गए प्रश्न आपकी परीक्षा में भी पूछे जा सकते हैं। या लगभग इसी तरह के प्रश्न ही आपकी परीक्षा में पूछे जाएंगे।
  • SSC GD की परीक्षा में आपको 60 मिनट का समय दिया जाता है। इन 60 मिनट में आपको 80 प्रश्नों को हल करना होता है। जिसमें से 40 प्रश्न गणित एवं रिजनिंग विषय के होते हैं। जिन्हें हल करने के लिए आपको अधिक समय की आवश्यकता होती है।
  • इस समय को मैनेज करने में ऑनलाइन मॉक टेस्ट आपकी काफी सहायता कर सकता है।

रिवीजन है, सबसे ज्यादा जरूरी।

  • तैयारी के दौरान आप जिन भी विषयों को पढ़ते हैं। उसका नोट्स अवश्य बनाते चलें साथ ही उसका रिवीजन भी अवश्य करते रहें।
  • रिवीजन के लिए आप अपने टाइम टेबल में एक अलग समय निर्धारित कर ले। ताकि आप दिन भर के पढ़ें हुए सभी विषयों का इस निर्धारित समय पर एक बार रिवीजन कर सके।

अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें।

  • SSC GD की परीक्षा में चयनित होने के लिए जितना आवश्यक लिखित परीक्षा है, उतनी ही आवश्यक शारीरिक परीक्षा भी है। ऐसे में अगर आप अपने शारीरिक स्वास्थ्य का ध्यान नहीं रखते हैं, तो यह आपके लिखित परीक्षा और शारीरिक परीक्षा दोनों को पूरी तरह से प्रभावित करेगा।
  • SSC GD की लिखित परीक्षा के लगभग एक माह के अंतराल में ही शारीरिक परीक्षा के लिए अभ्यर्थियों को बुला लिया जाता है। इसलिए आप अपनी सेहत का ध्यान रखें तथा फिजिकल एक्टिविटी भी बनाए रखें।

शारीरिक परीक्षा की तैयारी कैसे करें?

SSC GD की लिखित परीक्षा के बाद कराई जाने वाली शारीरिक मापन एवं दक्षता परीक्षा में ज्यादातर अभ्यर्थी असफल हो जाते हैं। यहां पर हम आपको शारीरिक परीक्षा की तैयारी के लिए कुछ तरीको को साझा कर रहे हैं। जो कि आपकी शारीरिक परीक्षा की तैयारी में सहायक होंगे।

अभ्यर्थी लिखित परीक्षा की तैयारी तो काफी समय से कर रहे होते हैं, जबकि वह अपनी फिजिकल परीक्षा की तैयारी पहले पेपर का रिजल्ट आने के बाद ही शुरू करते हैं।

वही SSC के द्वारा रिजल्ट जारी होने के एक माह के अंदर ही फिजिकल परीक्षा शुरू कर दी जाती है। ऐसे में अभ्यर्थियों को तैयारी के लिए पर्याप्त समय नहीं मिल पाता है।

इसलिए आप अपनी फिजिकल परीक्षा की तैयारी अपनी लिखित परीक्षा की तैयारी के साथ ही शुरू कर दें।

  • SSC GD की फिजिकल परीक्षा में सबसे महत्वपूर्ण परीक्षा दौड़ होती है। जिसमें पुरुष अभ्यर्थियों को 5 किलोमीटर की दौड़ 24 मिनट में तथा महिला अभ्यर्थियों को 1600 मीटर की दौड़ 6 मिनट 30 सेकंड में पूरी करनी होती है।
  • जिन अभ्यर्थियों ने कभी भी 5 किलोमीटर की दौड़ नहीं की है। उन्हें इसकी तैयारी के लिए कम से कम 2 महीने का समय चाहिए होता है।
  • महिला अभ्यर्थियों को भी अपनी 1600 मीटर की दौड़ को 6 मिनट में निकलने के लिए कम से कम 2 महीने की प्रैक्टिस की आवश्यकता पड़ती है।
  • दौड़ की तैयारी की शुरुआत आप 1 किलोमीटर की दौड़ के साथ कर सकते हैं। सर्वप्रथम आपका लक्ष्य 5 किलोमीटर की दूरी को दौड़कर बिना रुके पूरा करना है। आप इसमें लगने वाले समय की परवाह न करें।
  • जब आप 5 किलोमीटर की दौड़ को लगातार दौड़कर पूरा करने के लिए सक्षम हो जाएं तब आप अपने स्पीड को बढ़ाकर समय को कम करना शुरू करें।
  • अभ्यास के दौरान आपका लक्ष्य 23 मिनट में 5 किलोमीटर की दूरी तय करना होना चाहिए। ताकि आप परीक्षा में 24 मिनट में आसानी से 5 किलोमीटर की दूरी तय कर ले।
  • दौड़ की शुरुआत में आप अपने सांसों पर नियंत्रण पाने का प्रयास करें। सांस हमेशा नाक से ही लें। मुंह से सांस लेने पर आपका गला सूख जाएगा और आप थक कर रुक जाएंगे।
  • 5 किलोमीटर की दौड़ में सबसे ज्यादा कठिनाई 2 किलोमीटर से लेकर 3 किलोमीटर की दूरी तय करने में होती है। इस समय आप अगर अपनी सांस पर नियंत्रण पा लेते हैं, तो बची हुई 2 किलोमीटर की दूरी आसानी से पूरी कर सकते हैं।
  • दौड़ की शुरुआत सामान्य स्पीड से करें और जैसे ही आपका शरीर Warm होता जाए वैसे ही आप अपनी स्पीड थोड़ी-थोड़ी बढ़ाते रहें।
  • दौड़ के अभ्यास के दौरान आप रनिंग शूज का इस्तेमाल करें। यह काफी सस्ते दामों में मार्केट में उपलब्ध होते हैं। जो की काफी हल्के, साथ ही दौड़ने के लिए आरामदायक होते हैं।
  • एसएससी जीडी की दौड़ ज्यादातर सड़कों पर ही कराई जाती है। कुछ जगहों पर ग्राउंड में भी दौड़ कराई जाती है। ऐसे में अगर आपका अभ्यास सड़कों पर दौड़ने का है, तो आप दोनों ही स्थिति में सफल हो जाएंगे।
  • एसएससी जीडी की फिजिकल परीक्षा हर वर्ष मई और जून माह में ही आयोजित की जाती है। जिस दौरान उत्तर भारत में कड़ी गर्मी पड़ रही होती है। अतः आप इस स्थिति के लिए तैयार रहें।
  • दौड़ परीक्षा के लिए एक केंद्र पर एक दिन में लगभग 300 से 400 अभ्यर्थियों को बुलाया जाता है। जिसके बाद 50-50 बच्चों का बैच तैयार किया जाता है। इस तरह से लगभग 6 से 7 बैच तैयार किए जाते हैं।
  • प्रथम बैच के बच्चों की दौड़ लगभग सुबह 6:00 बजे तक करा दी जाती है। अतः आप अपने सेंटर पर जल्दी पहुंच कर पहले बैच में शामिल होने का प्रयास करें।
  • वहीं अंतिम बैच के बच्चों की दौड़ होते-होते लगभग 10:00 बज जाते हैं। जो कि मई जून के माह में इस इस समय तक कड़ी धूप हो जाती है। जिससे दौड़ पूरी करने में आपको समस्या आ सकती है।

यहां बताई गई सभी बातों को ध्यान में रखकर आप अपनी एसएससी जीडी की फिजिकल परीक्षा आसानी से उत्तीर्ण कर सकते हैं।

  1. एसएससी जीडी के लिए क्या पढ़ना चाहिए?

    एसएससी जीडी परीक्षा के लिए चार विषय गणित, रिजनिंग, सामान्य जागरूकता, हिंदी/अंग्रेजी को पढ़ाना होता है।

  2. एसएससी जीडी में सिलेक्शन कैसे होता है?

    एसएससी जीडी में सिलेक्शन लिखित परीक्षा, शारीरिक परीक्षा तथा मेडिकल एवं दस्तावेज जांच परीक्षा के माध्यम से किया जाता है।

  3. SSC GD की सैलरी कितनी होती है?

    एसएससी जीडी की शुरुआती सैलरी लगभग 23527 रुपए तक होती है। इसके साथ ही कर्मचारियों को कई अन्य भत्ते एवं सुविधाएं भी प्रदान किए जाते हैं।

  4. जीडी में कितने पेपर होते हैं?

    एसएससी जीडी की परीक्षा में लिखित पेपर आयोजित कराया जाता है। इसके साथ ही इसमें शारीरिक परीक्षा एवं मेडिकल जांच परीक्षा भी कराई जाती है।

  5. क्या एसएससी जीडी में कोई इंटरव्यू होता है?

    नहीं! एसएससी जीडी या SSC के द्वारा कराई जाने वाली किसी अन्य परीक्षा में इंटरव्यू नहीं लिया जाता है।

  6. जीडी में माइनस मार्किंग कितनी है?

    एसएससी जीडी की परीक्षा में 1/4 की माइनस मार्किंग की जाती है। यानी कि प्रत्येक गलत उत्तर के लिए अभ्यर्थियों के .50 अंक काट लिए जाते हैं।

  7. एसएससी जीडी में कौन सी पोस्ट बेहतर है?

    एसएससी जीडी में सबसे अच्छी पोस्ट SSF की मानी जाती है।

  8. एसएससी जीडी में सबसे पहले क्या होता है?

    एसएससी जीडी में सर्वप्रथम कंप्यूटर आधारित लिखित परीक्षा कराई जाती है। जिसमें 80 प्रश्न 160 अंकों के लिए पूछे जाते हैं। जिन्हें हल करने के लिए 60 मिनट का समय दिया जाता है।

  9. जीडी में कितनी हाइट चाहिए?

    एसएससी जीडी के लिए पुरुषों की न्यूनतम लंबाई 170 सेंटीमीटर वही महिला अभ्यर्थियों की न्यूनतम लंबाई 157 सेंटीमीटर होनी चाहिए।

  10. एसएससी जीडी 2023 की भर्ती कब आएगी?

    एसएससी जीडी 2023 की भर्ती का आवेदन दिनांक 24 नवंबर 2023 से प्रारंभ किया जाएगा।

  11. जीडी का पेपर कब होगा?

    SSC जीडी का पेपर 20, 21, 22, 23, 24, 26, 27, 28, 29 फरवरी 2024 और 1, 5, 6, 7, 11 और 12 मार्च 2024 को आयोजित की जाएगी।


  12. SSC GD में कितनी दौड़ होती है?

    GD परीक्षा में पुरुष अभ्यर्थियों को 5 किलोमीटर की दौड़ 24 मिनट में तथा महिला अभ्यर्थियों को 1600 मीटर की दौड़ 8 मिनट 30 सेकंड में पूरी करनी होती है।

निष्कर्ष

आज के आर्टिकल में हमने आपको “SSC GD Ki Taiyari Kaise Karen” के बारे में विस्तार से जानकारी साझा की है। आशा करते हैं, की हमारा यह प्रयास आपके लिए उपयोगी साबित होगा।

SSC GD या SSC के द्वारा कराई जाने वाली किसी अन्य परीक्षा की जानकारी के लिए आप हमसे कमेंट के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं।

या आप हमारे टेलीग्राम ग्रुप में जुड़कर हमसे जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। साथ ही इस ग्रुप में जुड़कर आप SSC परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों का क्विज के रूप में अभ्यास भी कर सकते हैं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए धन्यवाद!

5 thoughts on “SSC GD Ki Taiyari Kaise Karen: सम्पूर्ण जानकारी 2024”

Leave a Comment

error: Content is protected !!
CTET Exam Pattern 2024: पेपर 1 & पेपर 2 परीक्षा पैटर्न CTET Application Form 2024 जारी: अभी करें आवेदन! SSC new website launched: सभी को फिर से करना होगा वन टाइम रजिस्ट्रेशन CTET Exam Timing 2024-परीक्षा समय में हुआ है यह बड़ा बदलाव, अभी देखें। CTET Pre Admit Card 2024: इस तारीख तक जारी होगा CTET प्री एडमिट कार्ड CTET Exam Date 2024: सीटेट परीक्षा में ये दस्तावेज ले जाना है,जरूरी